जंक फूड के अधिक सेवन से उड़ रही है 'बच्चों की नींद' , रिसर्च में हुआ खुलासा

▴ जंक फूड के अधिक सेवन से उड़ रही है 'बच्चों की नींद' , रिसर्च में हुआ खुलासा

आज के बदलते दौर में अधिकतर लोगों का खान-पान बदल चुका है. लोग जंक फूड ज्यादा खाने लगे हैं. बड़ों के साथ-साथ बच्चे भी जंक फूड के आदि होते जा रहे हैं, जिसका सीधा असर उनके स्वास्थ्य पर पड़ रहा है.


आज के बदलते दौर में अधिकतर लोगों का खान-पान बदल चुका है. लोग जंक फूड ज्यादा खाने लगे हैं. बड़ों के साथ-साथ बच्चे भी जंक फूड के आदि होते जा रहे हैं, जिसका सीधा असर उनके स्वास्थ्य पर पड़ रहा है. यूनिवर्सिटी ऑफ क्वींसलैंड की तरफ से किए गए रिसर्च में यह खुलासा हुआ है कि अधिक मात्रा में जंक फूड के सेवन से बच्चों की नींद पर बुरा प्रभाव पड़ रहा है. 

क्वीसलैंड यूनिवर्सिटी के एसोसिएट प्रोफेसर असद खान का कहना है कि सॉफ्ट ड्रिंक्स और फास्ट फूड का लगातार इस्तेमाल दुनिया भर के किशोरों में नींद की खराबी से जुड़ा हुआ है. उन्होंने कहा, "ये पहला रिसर्च है जिसके जरिए गैर सेहतमंद डाइट और तनाव से संबंधित नींद की गड़बड़ी को वैश्विक स्तर पर 64 देशों के हाई स्कूल के छात्रों में समझने की कोशिश की गई है."

 प्रोफेसर असद खान का कहना है कि कुल 7.5 फीसद किशोरों ने तनाव से संबंधित नींद की गड़बड़ी की शिकायत की, जो पुरुषों के मुकाबले महिलाओं में ज्यादा आम समस्या थी. रिसर्च से पता चला कि बहुत ज्यादा लगातार सॉफ्ट ड्रिंक्स का इस्तेमाल करनेवालों में नींद की खराबी बढ़ जाती है, जिसमें अक्सर कैफीन, फास्ट फूड्स शामिल है.

खानपान के व्यवहार में आए बदलाव पर रिसर्च से खुलासा

शोधकर्ता का कहना है कि प्रति दिन तीन से ज्यादा सॉफ्ट ड्रिंक्स पीनेवाले बच्चों में नींद की गड़बड़ी का प्रतिशत एक दिन में सिर्फ एक सॉफ्ट ड्रिंक पीनेवालों के मुकाबले ज्यादा था. रिपोर्ट के मुताबिक, प्रति सप्ताह चार दिन से ज्यादा फास्ट फूड्स खानेवाले पुरुषों में नींद के प्रभावित होने का प्रतिशत एक सप्ताह में सिर्फ एक बार फास्ट फूड खानेवालों के मुकाबले महिलाओं में 49 फीसद अधिक पाया गया. एक दिन में तीन बार से ज्यादा सॉफ्ट ड्रिंक्स का लगातार इस्तेमाल और सात दिन में चार दिन से ज्यादा फास्ट फूड स्पष्ट तौर पर सभी गरीब मुल्कों में नींद की खराबी से जुड़ा हुआ था.

रिसर्च के लिए शोधकर्ताओं ने डेटा को विश्व स्वास्थ्य संगठन के 2009 और 2016 के बीच किए गए सर्वेक्षण से हासिल किया था. सर्वेक्षण में 12-15 साल की उम्र वाले 1 लाख 75 हजार 261 छात्रों को शामिल किया गया और 64 मुल्कों की लिस्ट में गरीब, अमीर और मध्य आमदनी वाले अफ्रीका, दक्षिण अमेरिका के कुछ हिस्से, दक्षिण पूर्व एशिया और पूर्वी भूमध्यसागर के देश थे. शोधकर्ता डॉक्टर असद खान के मुताबिक, अमीर देशों के बच्चों में लगातार सॉफ्ट ड्रिंक्स का इस्तेमाल और नींद की खराबी के बीच सबसे ज्यादा संबंध था. इन देशों की महिलाओं में फास्ट फूड का नियमित सेवन और नींद की समस्याओं के बीच सबसे ऊंचा संबंध देखा गया.

डॉक्टर खान ने बताया कि योजना और नीतियां बनाते वक्त इन गैर सेहतमंद व्यवहारों को प्राथमिकता की बुनियाद पर रखे जाने की जरूरत है. तनाव से जुड़ी नींद में बाधा की समस्या लड़कों के मुकाबले लड़कियों में ज्यादा थी. इसलिए स्कूल का वातावरण ऐसा बनाया जाना चाहिए जिससे सॉफ्ट ड्रिंक्स और फास्ट फूड तक पहुंच को सीमित किया जा सके. परिवार का भी सेहतमंद खानपान की आदतों को बढ़ावा देने में अहम भूमिका हो सकती है क्योंकि बच्चों के खानपान के व्यवहार उनके पारिवारिक माहौल से प्रभावित होते हैं.

Tags : #Junkfood #childhealth #healthcare #newresearch

About the Author


Ranjeet Kumar

Related Stories

Loading Please wait...
-Advertisements-




Trending Now

मध्य प्रदेश में फिर बढ़े कोरोना वायरस के केसेFebruary 25, 2021
जानें क्या है लॉन्ग कोविड? इसके लक्षणFebruary 25, 2021
महाराष्ट्र के 1 स्कूल के 229 बच्चे मिले कोरोना पॉजिटिवFebruary 25, 2021
बच्‍चों को भी जल्द लगेगी कोवैक्‍सीन की डोज, जाने कबFebruary 25, 2021
गर्दन में दर्द होना हो सकता है “माइग्रेन”, ना करे नजरअंदाजFebruary 25, 2021
ये खाद्य पदार्थ आपको समय से पहले कर रहे है बूढ़ा February 24, 2021
ऑर्गेनिक स्किन प्रॉडक्ट्स यूज़ करना स्किन के लिए है बेहतर या नुकसानदेह, इस्तेमाल से पहले ज़रूर जान ले February 24, 2021
दिल्‍ली में कोविशील्‍ड वैक्‍सीन लेने के बाद व्‍यक्ति की मौत, जाने पूरी रिपोर्टFebruary 24, 2021
जाने पित्त की पथरी का घरेलू इलाजFebruary 24, 2021
कपिल शर्मा को जिम में हुई बैक इंजरी, चलना-फिरना हुआ मुश्किलFebruary 24, 2021
इम्यूनिटी बूस्ट करेगा ये 3 योगासन February 24, 2021
मशरूम के सेवन से पुरुषों को मिलेंगे ये चमत्कारिक फायदेFebruary 24, 2021
दिल्ली में बढ़ रही है कोविड-19 संक्रमण की दरFebruary 23, 2021
सांसों से जुड़ी परेशानियों को कम करे इन घरेलु नुस्खो से February 23, 2021
फेस से अनचाहे तिल को हटाने के लिए यूं करें टी ट्री ऑयल का इस्तेमालFebruary 23, 2021
बच्चे की नाक को करे ऐसे साफ़, कुछ आसान टिप्सFebruary 23, 2021
इन 5 लोगों को ब्लड डोनेट नहीं करना चाहिए, जाने किन लोगो को February 23, 2021
जीरे के सेवन से इम्युनिटी होती है बूस्ट February 23, 2021
नींबू का अचार खाने से होता है शुगर लेवल कंट्रोलFebruary 23, 2021
जाने दो बच्चों के बीच होना चाहिए कितना एज गैप?February 22, 2021