जाने ब्लैक ऑलिव के लाजवाब फायदे

▴ जाने ब्लैक ऑलिव के लाजवाब फायदे

ज्यादातर लोग जैतून के तेल का इस्तेमाल सलाद, सब्जी के साथ ही बालों व त्वचा को हेल्दी रखने के लिए करते हैं. लेकिन जैतून के फल खासकर काले जैतून के सेवन से आप कई गंभीर रोगों से बचे रह सकते हैं.


आपने ग्रीन ऑलिव यानी हरा जैतून तो देखा एवं खाया होगा, पर क्या कभी काला जैतून या ब्लैक ऑलिव खाया है? हो सकता है खाया भी हो, क्योंकि यह कई पिज्जा के ऊपर टॉपिंग्स में इस्तेमाल किया जाता है. पिज्जा पर ये छोटे-छोटे स्लाइस में डले रहते हैं. हालांकि, कुछ लोगों को जैतून का स्वाद खराब लगता है, लेकिन जैतून काफी हेल्दी  होता है. ज्यादातर लोग जैतून के तेल का इस्तेमाल सलाद में, सब्जी बनाने के लिए या फिर बालों व त्वचा को हेल्दी रखने, इनकी खूबसूरती बढ़ाने के लिए भी करते हैं. अब तो सुपरमार्केट में भी बॉटल में ग्रीन-ब्लैक ऑलिव्स मिलते हैं. कई गंभीर बीमारियों से बचाता है जैतून। जानें, काले जैतून के फायदे और नुकसान.

जैतून के फायदे

जैतून फाइबर का एक अच्छा स्रोत है, जो पाचन को स्वस्थ और कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित रखता है. इसमें आयरन भी होता है, लाल रक्त कोशिकाओं और विटामिन ई का एक प्रमुख घटक है. साथ ही यह एक शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट भी है. यदि आप अपने भोजन में सोडियम की मात्रा शामिल करते हैं, तो आप जैतून को जरूर शामिल करें, क्योंकि यह मिनरल्स का एक महत्वपूर्ण स्रोत है.

काले जैतून के फायदे

काले जैतून में फाइबर अधिक होता है. प्रतिदिन पुरुषों को 38 ग्राम और 50 साल तक की महिलाओं के लिए 25 ग्राम काले जैतून का सेवन करना चाहिए. इसमें मौजूद घुलनशील फाइबर रक्त में कोलेस्ट्रॉल और ग्लूकोज लेवल को कम करने में मदद करता है, जबकि अघुलनशील फाइबर मल जमा करता है, जो पाचन तंत्र के जरिए चीजों की आवाजाही को बढ़ावा देता है. डायटरी फाइबर में समृद्ध आहार आंतों की सेहत बनाए रखने, ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने, स्वस्थ वजन और कम कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बनाए रखने में मदद करता है.

कार्डियोवैस्कुलर हेल्थ को बढ़ावा देता है ब्लैक ऑलिव

काले जैतून में स्वस्थ मोनोअनसैचुरेटेड वसा की उच्च मात्रा होती है. पका हुआ जैतून कुल मोनोअनसैचुरेटेड वसा के लगभग 8 ग्राम प्रदान करता है. अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन का कहना है कि लोगों द्वारा खाए जाने वाले भोजन में वसा एक दिन में 25 से 30 प्रतिशत कैलोरी से अधिक नहीं होनी चाहिए और उन वसा में से अधिकांश मोनोअनसैचुरेटेड या पॉलीअनसैचुरेटेड वसा से आना चाहिए. मोनोअनसैचुरेटेड वसा आपके रक्त में बैड कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने और हृदय रोग, स्ट्रोक के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है. मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड इंसुलिन के स्तर और ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में मदद करते हैं.

काला जैतून खाने से कैंसर होने का खतरा होता है कम

आप हरा या फिर काला जैतून खाएंगे, तो कैंसर जैसी घातक बीमारी से बचाव होगा. जर्मन कैंसर रिसर्च सेंटर द्वारा किए गए एक शोध में पाया गया कि जैतून कैंसर के जोखिमों को कम करने में सहायक साबित हो सकता है. दरअसल, जैतून में स्क्वालीन और टर्पेनॉयड जैसे एंटीकैंसर प्रभाव वाले खास तत्व मौजूद होते हैं. इन तत्वों की मौजूदगी के कारण ही जैतून का उपयोग कैंसर के जोखिम को कुछ हद तक कम करने में मददगार साबित हो सकता है. वहीं, यह ध्यान रखना भी जरूरी है कि घरेलू उपाय को कैंसर का इलाज नहीं समझा जा सकता है. इसके इलाज के लिए डॉक्टरी उपचार आवश्यक है.

हड्डियों को रखे मजबूत, ऑस्टियोपोरोसिस से बचाए काला जैतून

जैतून हड्डियों की सेहत भी बनाए रखता है. हरा हो या काला जैतून दोनों ही में मौजूद पॉलीफेनॉल्स हड्डियों को सुरक्षि रखते हैं. पॉलीफेनॉल्स हड्डियों को फ्री रैडिकल्स से बचाता है. जैतून के तेल से हड्डियों की सूजन को आप दूर कर सकते हैं. ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या होने पर आप ब्लैक ऑलिव का सेवन करें.

ब्लैक ऑलिव हार्ट डिजीज, स्ट्रोक के जोखिम को करे कम

काले जैतून  में स्वस्थ मोनोअनसैचुरेटेड वसा की उच्च मात्रा होती है. आप एक दिन में जो भी खाते हैं, उसमें 25-30 फीसदी से अधिक कैलोरी की मात्रा नहीं होनी चाहिए. मोनोअनसैचुरेटेड फैट खून में बैड कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करने, हार्ट डिजीज और स्ट्रोक के जोखिम को कम करता है. मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड इंसुलिन लेवल और ब्लड शुगर लेवल को भी कंट्रोल करने में मदद करता है.

जैतून के कुछ होते हैं नुकसान

वैसे तो जैतून काफी हेल्दी होता है, लेकिन अधिक सेवन से कुछ नुकसान भी हो सकते हैं. जैतून और जैतून का तेल ब्लड शुगर कम करता है. यदि आपको डायबिटीज है और दवाएं भी लेते हैं, तो इसका सेवन ना करें. यदि आपको इसके सेवन के बाद किसी भी तरह की एलर्जी हो, तो दोबारा इसका सेवन कभी नहीं करें. कुछ शारीरिक समस्याएं नजर आती हैं, तो डॉक्टर से मिलें. यदि आपकी त्वचा संवेदनशील है, तो चेहर पर जैतून का तेल लगाने से बचें. इससे एलर्जी भी हो सकती है. तेल या इससे बनने पेस्ट को चेहरे पर लगाने से पहले कहीं भी त्वचा पर हल्का से लगाकर देख लें. प्रेग्नेंट महिलाएं भी ऑलिव के सेवन से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर ले लें.
Tags : #Fantastic #Benefits #Black #Olive

About the Author


Taniya Chhari

Healthcare Journalist, and a content writer, Experienced Theatre artist, and belly dancer. [email protected] हम आपकी स्टोरी या ख़बर को https://hindi.medicircle.in पर प्रकाशित करेंगे.

Related Stories

Loading Please wait...
-Advertisements-



Trending Now

देश में पिछले 24 घंटे में नए कोरोना संक्रमितों की संख्या घटीNovember 30, 2020
जाने बायोटिन के फायदे और डोज़November 30, 2020
जाने विटामिन बी कॉम्प्लेक्स के फायदेNovember 30, 2020
मिशन कोविड सुरक्षा हेतु भारत सरकार ने 9 सौ करोड़ रूपए के पैकेज का ऐलान किया November 30, 2020
कोरोना की जांच अब होगी और भी आसान, भारतीय वैज्ञानिकों ने विकसित की नई जांच पद्धतिNovember 30, 2020
अच्छी ख़बर दिल्ली में कोरोना की रफ्तार पर लगाम, प्राइवेट लैब में अब कम कीमत पर होगा कोरोना टेस्ट November 30, 2020
होम आइसोलेशन में रहने वाले कोरोना पीड़ितों की जरा सी लापरवाही से घरवाले हो सकते हैं संक्रमितNovember 30, 2020
सर्दी में कम पानी पीना पड़ सकता है स्वास्थ्य के लिए महंगा November 30, 2020
विश्व एड्स दिवस- सुरक्षा ही बचाव हैNovember 30, 2020
दिमाग और दिल के लिए गोभी की सब्जी खाना बेहतर है, साथ ही यह इम्यूनिटी भी करता है बूस्ट November 30, 2020
जिम जाने की नहीं है जरूरत , बस अपना लें ये घरेलू नुस्खा कम हो जाएगा आपका वजन November 30, 2020
कोरोना वैक्सीन अपटेड - प्रधानमंत्री ने कोरोना वैक्सीन बनाने वाली तीन टीमों के साथ की ऑनलाइन बैठक November 30, 2020
मल्‍टीविटामिन है बेहद काम की चीज़ जाने इसके फायदे और नुकसानNovember 30, 2020
जाने सेब के सिरके के फायदेNovember 30, 2020
खाना खाने के बाद यदि रहता हो पेट भारी-भारी, तो अपनाएं ये घरेलू नुस्खें, फौरन आराम मिलेगाNovember 28, 2020
नियमित रूप से चावल खाकर भी हासिल किया जा सकता है फिटनेस, जाने चावल खाने के और क्या है फायदे November 28, 2020
भोपाल में कोरोना वैक्सीन का तीसरा ट्रायल शुरूNovember 28, 2020
दिल्ली में नहीं लग पा रहा है कोरोना पर लगाम, एक दिन में 98 लोगों की मौतNovember 28, 2020
दिल का रखता है ख्याल शहद, जाने और भी फायदेNovember 28, 2020
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लिया वैक्सीन निर्माण का जायजाNovember 28, 2020