ये योगासन शरीर में जमे कैलोरी को तेजी से करेगा बर्न

▴ these-yoga-postures-will-rapidly-burn-frozen-calories-in-the-body

शरीर में जमे अतिरिक्त कैलोरी को तेजी से कम करने के लिए आप नियमित रूप से दो योगासन करें. ये दो आसन हैं चतुरंग दंडासन और चक्रासन, इनका अभ्यास करना है बेहद आसान.


योग करने से कई तरह की शारीरिक समस्याएं दूर होती हैं. योग से मानसिक तनाव दूर होता है. मन को शांति मिलती है. योग शरीरिक क्षमता, शक्ति, ताकत को बढ़ाता है. मांसपेशियों को मजबूती मिलती है. शरीर में लचक आता है. इतना ही नहीं योग की मदद से आप शरीर में मौजूद अतिरिक्त कैलोरी को भी आसानी से कम कर सकते हैं. कैलोरी कम होगी, तो वजन नहीं बढ़ेगा.

हम आपको दो योगासन के बारे में बता रहे हैं. इन दोनों योगासन को नियमित रूप से करने से चर्बी कम होती है. इन योगासनों का नाम है चतुरंग दंडासन और चक्रासन. ये दोनों आसन शरीर के उन हिस्सों पर काम करते हैं, जहां शरीर में सबसे ज्यादा कैलोरी और फैट मौजूद होता है. जानें, इन दोनों योगासनों को करने का तरीका क्या है.

चतुरंग दंडासन - चतुरंग दंडासन बिल्कुल पुशअप्स की तरह किया जाता है. इसे करने के लिए सबसे पहले फर्श पर योग मैट बिछाएं. अब पुशअप्स की मुद्रा में आ जाएं. जिस तरह से आप पुशअप्स का अभ्यास करते हैं, बिल्कुल उसी तरह से इसे करना शुरू करें. सबसे पहले नीचे की तरफ जाएं और उसी मुद्रा में बने रहें. इससे शरीर के कोर मसल्स पर बेहतर प्रभाव पड़ता है. पुशअप्स की मुद्रा में जब आएं, तो अपने हाथों को 90 डिग्री की एंगल में रखें. चतुरंग दंडासन का अभ्यास प्रत्येक दिन करने से काफी हद तक शरीर से कैलोरी बर्न करने में मदद मिलेगी.

चक्रासन - जब आप चक्रासन करते हैं, तो उस दौरान शरीर बिल्कुल चक्र की तरह बन जाता है, इसलिए इसे चक्रासन नाम दिया गया है. वॉर्मअप करने का सबसे बेहतर तरीका है चक्रासन. इसके नियमित अभ्यास से शरीर में खिंचाव आता है. दिल से जुड़ी समस्याओं को दूर रखता है. चक्रासन करने से बांझपन, कमर दर्द की समस्या दूर होती है. चेहरे पर निखार आता है. रक्त वाहिकाओं को खोलता है. इसे करने के लिए सबसे पहले किसी एक स्थान पर सीधे खड़े हो जाएं.

अब कमर को पीछे की तरफ मोड़ें. इसे धीरे-धीरे करें. अब हाथों को पीछे की तरफ मोड़ते हुए फर्श पर सटाएं. पैरों को स्थिर रखें. आपकी शारीरिक अवस्था बिल्कुल चक्र की मुद्रा में नजर आएगी. इस आसन को करने से शरीर में रक्त का संचार सही तरीके से होता है. इससे शरीर में एक्स्ट्रा कैलोरी एकत्रित नहीं होती है. जिन लोगों को मोटापा कम करना है, वे यह आसन जरूर करें. चक्रासन करने से रीढ़ की हड्डी लचीली बनती है.

Tags : #yoga #postures #rapidly #burn #frozen #calories #body

About the Author


Taniya Chhari

Healthcare Journalist, and a content writer, Experienced Theatre artist, and belly dancer. [email protected] हम आपकी स्टोरी या ख़बर को https://hindi.medicircle.in पर प्रकाशित करेंगे.

Related Stories

Loading Please wait...
-Advertisements-



Trending Now

सोडियम की कमी से स्वास्थ्य पर पड़ता है बुरा प्रभावSeptember 22, 2020
अपेंडिक्स के लक्षण को जाने और समय पर इलाज करवाएंSeptember 22, 2020
डिप्थीरिया की बीमारी से बचाने के लिए बच्चों को समय पर टीका ज़रूर दिलाएंSeptember 22, 2020
डाइजेशन सिस्टम बनाये स्ट्रोंग, इन छोटी-छोटी बातों का रखें ध्यानSeptember 22, 2020
फैटी लिवर को इस तरीके से करे खत्मSeptember 22, 2020
बस कुछ मिनटों में आएगा कोरोना टेस्ट का रिजल्टSeptember 22, 2020
कीड़े के काट जाने पर करें ये काम, खुजली, सूजन और लालपन से मिलेगा छुटकाराSeptember 22, 2020
देश में रिकॉर्ड संख्या में कोरोना मरीज हुए ठीक, पिछले 24 घंटे में एक लाख से अधिक रोगी हुए ठीक September 22, 2020
कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित 5 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात करेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीSeptember 22, 2020
लोकसभा ने होम्योपैथी केंद्रीय परिषद (संशोधन) विधेयक, 2020 किया पारितSeptember 22, 2020
संसद ने महामारी रोग (संशोधन) विधेयक, 2020 को दी मंजूरीSeptember 22, 2020
नीति आयोग ने जारी की 'दीर्घकालिक स्‍वास्‍थ्‍य लाभ पर विशेष रिपोर्ट'September 22, 2020
'फिट इंडिया अभियान' के मौके पर प्रधानमंत्री करेंगे लोगों को फिटनेस के प्रति जागरूकSeptember 22, 2020
स्मार्टफोन से निकलने वाली रोशनी स्कीन के लिए है ख़तरनाक- शोध में हुआ खुलासाSeptember 21, 2020
भारत में 2025 के बाद अल्जाइमर से पीड़ित मरीजों की संख्या होगी अधिकSeptember 21, 2020
हल्दी में छिपा है हड्डियों में हो रहे दर्द का इलाज September 21, 2020
इन घरेलू नुस्खे से रखें अपने दिल का ख्यालSeptember 21, 2020
कब क्या खाना चाहिए, यह जानना जरूरी हैSeptember 21, 2020
महिलाएं अधिक हो रही हैं सर्वाइकल कैंसर की शिकार, जाने लक्षणSeptember 21, 2020
जाने क्या है फॉल्स प्रेग्नेंसी? व इसके कारण और लक्षणSeptember 21, 2020